बात और है

हूँ शोर में शामिल मगर शराबे की बात और है
दौर-ए-जश्न में शामिल जनाजों की बात है

दुआ करे कोई

अब तो बस हिम्मत की बात है, दुआ करे कोई
करिश्मा बेशक जादूगर जो अब हुआ करे कोई
है तंगदस्ती ऐसे में कैसे परफूल हुआ करे कोई
मुफलिसी सही खैरात का ख्वाब हुआ करे कोई
चार दिन की चाँदनी रात का मुसाफिर हुआ करे कोई
जिंदगी चौराहे पर अब चार आप्शन हुआ करे कोई

औजार भी हथियार हुआ करता है

ये किसके दम से तेरा कारोबार चला करता है
सियासत में औजार भी हथियार हुआ करता है

मुफलिसी का मसीहा तो बस वही हुआ करता है
गर्दिश में खुद का जिस्म भी बोझ हुआ करता है

सरहद पर सवाल कि कैसे ये हाल हुआ करता है
लड़ते हैं सही जो दिल उनका भी हुआ करता है

लगती नहीं पाबंदी


कभी जो लबों को बोलने की नहीं होती आजादी
मगर आँखों की हलचल पर, लगती नहीं पाबंदी

बेकरारी न दिखे आँखों की होती नहीं जमाबंदी
सूरज के बिना खिलती नहीं दीये की खुदाबंदी

रोशनी का हुनर है जो होती नहीं उसकी किलाबंदी
राजनीति की है जरूरत मगर है ये चीज बहुत गंदी

अदब में रोड़ा बहुत बचने में इन से नहीं अक्लमंदी
सरहद पर शैतान, जरूरी है हद के अंदर भी लामबंदी

किस तरह से कौम की तौहीन करती है खेमाबंदी
इतराइये जरूर हर भेद खोल के रख देगी लेखाबंदी

आँखों में आँसू हैं सही सपनों की होती नहीं जलबंदी
इसरार महबूब की और कायदे की अपनी समाजबंदी

अब, मैं तो क्या सुनेगा मेरा मरा बाप

मैं तो क्या, सुनेगा मेरा मरा बाप!
➖➖➖➖
आप उस को जानते हैं?
वह कविता लिखता है
हिंदी में!

नहीं, मैं नहीं जानता! क्यों?

वह अच्छा लिखता है, हिंदी में!

अच्छा, वह लिखता है! हिंदी में!
क्या खाक लिखता है?
बकवास!

लेकिन,
आप तो उसे जानते नहीं हैं!

छोड़िये,
हिंदी में जानना राजनीतिक पद है।
आप मेरी कविता सुनिये!

जी।

मेरा दुख है भरा तबादला।
आया था कल आज चला।

जी मैं मैं नीर भरी....

छोड़िये, ये मैं मैं.!
हिंदी में न सुनना राष्ट्र द्रोह है!
अब! सुनेंगे आप!

अब मैं तो क्या,
सुनेगा मेरा मरा बाप!

आप भले आदमी हैं!
आगे सुनिये, सुनते जाइये! कैसा!

बाकी तो जो है हाँहाँहा हेंहेंहें

बाकी तो जो है हाँहाँहा हेंहेंहें
➖➖➖➖➖➖
जी सर, जी सर
समझ गया सच ही जीतता है।

झूठ बोले बिना काम नहीं चलता
यह सच है जो जीतता है।

झूठ बोले बिना
काम नहीं चलता, सच है
इस तरह झूठ बोलना
एक बड़ा काम होता है सर

सच है सर, सच जीतता है
समझ गया समझ गया
बाकी तो जो है हाँहाँहा हेंहेंहें